पटना, 06 सितम्बर। यश जौहर भारतीय हिंदी सिनेमा के एक प्रसिद्ध निर्माता थे। इनका जन्म 6 सिंतबर 1929 में लाहौर के पंजाब प्रांत में  हुआ था। सन 1976 में इन्होंने धर्मा प्रोडक्शन की स्थापना की थी। अपनी भव्यता और देश के बाहर फ़िल्म लोकेशन देने के कारण इनके फ़िल्मो को अधिक पसन्द किया गया। भारतीय परंपरा को समावेश कर के फ़िल्म का निर्माण करते थे।
यश जौहर की शादी हिरू जौहर के साथ हुई। हिरू जौहर के भाइयों का नाम बलदेव राज चोपड़ा और यश चोपड़ा था। यह दोनों हिंदी सिनेमा के जाने माने निर्देशक रह चुके हैं।
25 मई 1972 में यश जौहर और हिरू जौहर को माँ -बाप बनने का सुख प्राप्त हुआ। उन्होंने अपने बेटे का नाम करण जौहर रखा। आज के समय मे करन जौहर एक जाने माने निर्देशक – निर्माता हैं।
1952 में यश जौहर ने हिंदी सिनेमा में अपनी पारी का आगाज़ किया। सुनील दत्त के प्रोडक्शन हाउस ‘अजंता आर्ट्स’ में उन्होंने काम किया। बाद में वह देव आनंद के प्रोडक्शन का काम देखने लगे। फ़िल्म ‘गाइड’ के लिए उन्होंने देव आनंद की प्रोडक्शन में मदद किया। उसके बाद तो सिलसिला चल पड़ा। देव आनंद के प्रोडक्शन हाउस ‘नवकेतन फिल्म्स’ के बैनर तले बनी फिल्में ‘ज्वेल थीफ’, ‘प्रेम पुजारी’, ‘हरे रामा हरे कृष्णा’ इत्यादि फ़िल्मो ने सफलता के झंडे गाड़ दिये।

सन् 1976 में यश जौहर ने अपने खुद का प्रोडक्शन हाउस की नींव रखी। जिसका नाम पड़ा ‘धर्मा प्रोडक्शन’। इस कंपनी की पहली फ़िल्म राज खोसला के निर्देशन में बनी ‘दोस्ताना’ थी। जो बॉक्स आफिस पर रिकॉर्ड तोड़ कमाई कर के दिखाई। 80 के दशक में इस कॉम्पनी में अपनी सफलता को बरकरार रखा। 90 के दशक में ‘अग्निपथ’, ‘गुमराह’ और ‘डुप्लीकेट’ जैसी फिल्में देकर जनता को आश्चर्यचकित कर के रख दिया।
सन् 1998 में शाहरुख खान, काजोल और रानी मुखर्जी स्टारर फ़िल्म ‘कुछ कुछ होता है’, जिसका निर्देशन यश जौहर के बेटे करन जौहर ने किया। उस साल की सबसे बड़ी ब्लॉकबस्टर साबित हुई। इस फ़िल्म ने धर्मा प्रोडक्शन की रूप रेखा बदल के रख दी। इस फ़िल्म ने अवार्डों की झड़ी लगा दी।
यश जौहर ने निर्माता के तौर पर आखिरी फ़िल्म ‘कल हो ना हो’ में दिखे। यह फ़िल्म ने भी सफल साबित हुई।
छाती में संक्रमण होने के कारण 74 वर्ष की आयु में मुंबई में यश जौहर का निधन हो गया। यश जौहर के निधन के बाद धर्मा प्रोडक्शन की जिम्मेदारी करन जौहर ने ले लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.