रांची (विसंके). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने कहा कि वैश्विक आपदा के कारण विद्यालय एवं विद्यार्थियों की गतिविधियां कमजोर हुई हैं. भैया-बहनों का स्कूल जाना बंद हो गया. इस स्थिति में पुनः स्कूल चलें हम ही हमारा लक्ष्य हो.
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने श्री कृष्णचंद्र गांधी शैक्षिक नगर कुदलुम में विद्या भारती की अखिल भारतीय साधारण सभा के उद्घाटन सत्र में संबोधित किया. विद्या भारती के पालक अधिकारी होने के नाते उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी प्रतिभागियों से आह्वान किया कि कोरोना काल के कारण विद्यार्थियों, विद्यालयों तथा आचार्यों को जो क्षति हुई है, उसे हम सभी समाज के सज्जन शक्ति के सहयोग से पुनः व्यवस्थित करने में सफलता प्राप्त करेंगे. सामाजिक, मानसिक और बुद्धिमता की दृष्टि से बच्चों को जो क्षति हुई है, वह सामाजिकता के आधार पर ही पूर्ण किया जा सकता है. इसके लिए विद्यालय के साथ-साथ परिवारजनों को भी विशेष तौर पर सक्रिय होना पड़ेगा. बच्चों को अधिक से अधिक सामाजिक जीवन के लिए जागरूक करना होगा तथा विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओं को उनकी दिनचर्या में शामिल करना होगा. प्रतियोगिताओं में बच्चों की संलिप्तता से ही उनके अंदर शारीरिक, बौद्धिक और मानसिक क्षमता का विकास हो पाएगा.


बैठक की प्रस्तावना प्रस्तुत करते हुए विद्या भारती के अखिल भारतीय महामंत्री श्रीराम आरावकर ने विद्या भारती विद्यालयों के पिछले शैक्षिक सत्र तथा वर्तमान सत्र का तुलनात्मक वृत्त प्रस्तुत किया. साथ ही राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 में विद्या भारती की सहभागिता, भैया-बहनों के बीच होने वाली विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओं, पूर्व छात्र परिषद, स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के अवसर पर पोस्टकार्ड लेखन एवं सूर्य नमस्कार महोत्सव का आयोजन, विद्या भारती के प्रचार विभाग की गतिविधियां, ग्रामीण क्षेत्र की शिक्षा, संगीत शिक्षा, बालिका शिक्षा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता प्रशिक्षण, शिशु वाटिका, वैदिक गणित, राष्ट्रीय विज्ञान मेला, विद्या भारती खेल परिषद, सेवा क्षेत्र की शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, जनजातीय क्षेत्र की शिक्षा, पर्यावरण शिक्षा, विद्या भारती मानक परिषद, विद्या भारती ई-पाठशाला, वैदिक विद्यापीठ, सम्राट विक्रमादित्य भवन का लोकार्पण सहित विभिन्न विषयों के संबंध में विस्तृत जानकारी दी.
विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान के अखिल भारतीय सह संगठन मंत्री गोविंद जी ने पर्यावरण, कुटुंब प्रबोधन, राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का क्रियान्वयन, एनसीएफ निर्माण योजना, आचार्य कार्यकर्ता प्रशिक्षण सहित विभिन्न विषयों पर विचार रखा. तीन दिवसीय बैठक में होने वाले सत्रों के विषय में भी जानकारी दी.
कार्यक्रम का संचालन अखिल भारतीय मंत्री मधु श्री साव ने किया. इस अवसर पर मुख्य रूप से विद्या भारती अखिल भारतीय अध्यक्ष डॉ. डी. रामकृष्ण राव, अखिल भारतीय संगठन मंत्री काशीपति जी सहित 11 क्षेत्रों के संगठन मंत्री, प्रदेश एवं क्षेत्र के अधिकारी तथा विभिन्न विषय परिषदों के लगभग 350 पदाधिकारी बैठक में शामिल हो रहे हैं.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.