नई दिल्ली, 29 अक्टूबर। विश्व हिन्दू परिषद् के अंतर्राष्ट्रीय कार्यअध्यक्ष श्री आलोक कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस में आज बताया कि माननीय सुप्रीम कोर्ट ने राम जन्मभूमि की अपीलों की सुनवाई के लिए अब यह मामला फिर जनवरी 2019 तक के लिए बढ़ा दिया गया है।
इससे हमारा यह विश्वास भी पक्का होता है कि राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण के लिए अनंतकाल तक सुप्रीम कोर्ट के निर्णय की प्रतीक्षा करना उपयुक्त मार्ग नहीं रह गया है। हम केन्द्र सरकार से प्रार्थना करते हैं कि वह जल्दी कानून बना करके राम जन्मभूमि पर एक भव्य राम मंदिर बनाने का मार्ग प्रशस्त करे। हमारा आग्रह है कि यह कानून संसद के शीतकालीन सत्र में बन जाना चाहिए। विश्व हिन्दू परिषद् इसकी प्राप्ति के लिए अपने कैम्पेन को इंटेंसिफाइड करेगी मजबूत करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.