पूर्णिया, 22 मार्च। पूर्णिया स्थित हरदा में विश्व हिन्दू परिषद् की विभाग बैठक संपन्न हुई। जिसमें विहिप के अररिया एवं पूर्णिया जिला के दायित्वान कार्यर्ताओं ने भाग लिया। बैठक में मुख्य रूप से कनार्टक, ऊर्बी में हुए 1400 पूज्य सन्तों के दुवारा धर्म संसद में हुए निर्णय एवं आगामी किये जाने वाले कार्यो की चर्चा की गई। बताया जाता हैं कि धर्म संसद में पूज्य सन्तों दुवारा श्री राम जन्म भूमि के निर्माण में होने वाली बाधाओं को दूर करने हेतु आमजनों को ईस्ट देव मंत्र जाप कार्यक्रम दिया गया है, जिसके अंतर्गत 18 मार्च से 31 मार्च तक सभी अपने इष्ट देव के नाम से 108 बार मन्त्र का जाप करेंगे। राम जन्म भूमि में हो रही बाधाओ को दूर करने हेतु किया गया। साथ ही सिमांचल  में संगठन के विस्तार पर चिंतन-मंथन हुआ भी किया गया।

विहिप के कार्यकर्ताओं ने हिन्दू समाज पर हो रहे चौतरफा आक्रमण, लव जिहाद, धर्मांतरण, गो -तस्करी सहित धर्म विरोधी ताकतों को समाप्त करने पर भी चर्चा की गई।

कार्यक्रम में मुख्य वक्ता विहिप के केंद्रीय संयुक्त महामंत्री मिलिंद परांडे ने कहा कि भारतीय संस्क्रति समाज को एक सूत्र में बंधने की सिख देती हैं लेकिन धर्म विरोधी ताकत हमेसा हिन्दू धर्म को बदनाम करने की साजिस करते रहते है जो कभी सफल नहीं हो सकते है।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से उत्तर बिहार समन्वय प्रमुख अमरनाथ सिंह, विभाग मंत्री बिनोद कुमार लाठ, क्षेत्रीय धर्म प्रसार प्रमुख जवाहर जी, संगठन मंत्री जैनेन्द्र जी, ज़िला मंत्री मिर्तुंजय सिंह, जिला मीडिया प्रभारी विवेक कुमार लाठ, सोनू पाठक, हरदा मंत्री मनीष कुमार भारती, अररिया जिला अध्यक्ष शिव सुंदर भारती, पूर्णिया कार्याध्यक्ष विवेकानंद झा, हरदा अध्यक्ष अशोक सहनी, कृष्ण मूर्ति समेत लगभाग चार सौ कार्यर्ताओं ने बैठक में भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.