पटना, 25 दिसंबर। अनुग्रह नारायण सिंहा सामाजिक अध्ययन संस्थान पटना में श्री दत्तोपंत ठेंगड़ी स्मृति व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया। जिसमें ‘विकास की स्वदेशी अवधारणा’ विषय पर विमर्श का आयोजन किया गया।
उद्घाटन करता एवं मुख्य वक्ता वरिष्ठ विश्लेषक हरेंद्र प्रताप, स्वदेशी जागरण मंच के अखिल भारतीय संयोजक अरुण ओझा, भारतीय किसान संघ के अखिल भारतीय मंत्री ब्रज किशोर सिन्हा, लघु उद्योग भारती के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य रविंद्र कुमार सिंह स्वदेशी जागरण मंच के क्षेत्रीय संयोजक सचिंद्र बरिया, स्वदेशी विचार मंच, बिहार प्रांत के संयोजक यदुनंदन प्रसाद ने दीप प्रज्वलित कर किया।
मुख्य वक्ता हरेंद्र प्रताप ने राष्ट्र के विकास के पश्चिम आधारित दृष्टिकोण की आलोचना करते हुए कहा कि समाजवाद, पूंजीवाद और वैश्विक आर्थिक संस्था आधारित विकास के मानक राष्ट्र की प्रमुख समस्या बताया। उन्होंने नगरीकरण और आत्महत्या के रोमांचक संबंध पर चर्चा की। उन्होंने इसके समाधान के रूप में उत्पादन के स्वदेशी ढांचे की विस्तृत व्याख्या किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.