विद्या भारती पटना विभाग के विद्यालयों की विभाग स्तरीय बैठक पटना स्थित सरस्वती विद्या मंदिर, फुलवारी शरीफ में संपन्न हुआ। बैठक में विभिन्न विषय परिषदों पर विस्तार से चर्चा किया गया। बैठक का शुभारंभ पटना विभाग के विभाग निरीक्षक वीरेंद्र कुमार एवं विश्व संवाद केन्द्र के विपुल कुमार सिंह के दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर डॉ. देवेन्द्र कुमार, डॉ. नारायणदत्त झा, डॉ. पवन कुमार सिन्हा, दिनेश मिश्र, शंकर प्रसाद गुप्ता, धनंजय कुमार एवं मथुरानाथ पाण्डेय सहित 36 लोगों उपस्थित रहे।

उद्घटन उद्बोधन विभाग निरीक्षक वीरेंद्र कुमार ने विद्या भारती के विभिन्न केन्द्रीय विषयों की महत्ता स्पष्ट करते हुए संस्कृति बोध परियोजना, पूर्व छात्र परिषद्, शिशु वाटिका शिक्षा, बालिका शिक्षा एवं शोध परिषद् की विभिन्न योजनाओं एवं गतिविधियों की विस्तार पूर्वक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि विद्या भारती के विद्यालय भारत की गौरवशाली इतिहास, इसकी उज्ज्वल परम्पराओं, भारत की विश्व विजयी संस्कृति के संरक्षण-सम्पोषण एवं संवर्धन के लिए समर्पित है। अतएव इसे जनव्यापी आधार देने पर बल दिया।

svm 02

बैठक के दौरान विद्या भारती को समाज के बीच ले जाना भी आवश्यक महसूस की गई इसके लिए विद्यालयों में मीडिया सेल की स्थापना एवं इसकी सक्रियता पर प्रकाश डाला। उपस्थित प्रतिनिधियों ने अलग-अलग समूहों में बैठक कर वर्ष भर की कार्य-योजना तैयार की। अतिथि परिचय सरस्वती विद्या मंदिर, फुलवारी के प्रधानाचार्य धर्मेन्द्र कुमार ने किया जबकि कार्यक्रम का संचालन सरस्वती विद्या मंदिर,शास्त्रीनगर, पटना के प्रधानाचार्य डॉ देवेन्द्र कुमार ने किया। कार्यक्रम के अंत में आभार व्यक्त करते हुए मथुरानाथ पाण्डेय ने लिए निर्णयों के क्रियान्वयन एवं परिणामकारी प्रयत्न की आवश्यकता बताई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.