पटना, 12 अक्टूबर। विद्या भारती दक्षिण बिहार, प्रेम कुंज विंध्यवासिनी पथ कदमकुआं पटना के सभागार में अमरनाथ प्रसाद के निधन पर शोक सभा का आयोजन किया गया। शोक सभा में माननीय प्रकाश चंद्र जयसवाल ने अमरनाथ प्रसाद का जीवन परिचय देते हुए कहा कि उनका जन्म 1 जनवरी, 1960 को खगड़िया में हुआ था। वे छात्र जीवन में ही संघ से जुड़ गए थे। वे छः भाई और एक बहन में सबसे बड़े थे। उन्होंने सन 1971 में संघ शिक्षा वर्ग का प्रथम वर्ष, 1975 में द्वितीय वर्ष एवं 1983 में तृतीय वर्ष पूर्ण किया।
उन्होंने संघ के अनेक दायित्व का निर्वहन किया जिसमे जिला सह कार्यवाह, सह विभाग कार्यवाह, सह प्रांत शारीरिक प्रमुख, प्रांत शारीरिक प्रमुख और क्षेत्र शारीरिक प्रमुख रहे। विद्या भारती में उनका सफर प्रधानाचार्य के रूप में मार्च 1980 में प्रारम्भ हुआ। उसके बाद संभाग निरीक्षक 1994 , प्रदेश मंत्री 1998 लोक शिक्षा समिति मुजफ्फरपुर, प्रदेश सचिव 2010 , भारतीय शिक्षा समिति बिहार एवं प्रदेश सचिव 2015 में भारतीय शिक्षा समिति बिहार का दायित्व निर्वहन किया था।
इस शोक सभा में विभाग प्रमुख धीरेंद्र कुमार, भारती शिक्षा समिति के कार्यालय प्रमुख निशी भूषण श्रीवास्तव, परीक्षा प्रमुख राम चंद्र आर्य, विद्या भारती एवं भारतीय शिक्षा समिति के सभी कार्यकर्ता के साथ विद्या भारती द्वारा संचालित पटना विभाग के सभी विद्यालयों के प्रचार एवं आचार्य दीदी जी की उपस्थिति थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.