हाजारीबाग, 30 जुलाई। हाजारीबाग के कोर्रा में सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में वर्तमान शिक्षा की चुनौतियाँ विषय पर गोष्ठी का आयोजन हुआ। जिसमे अनेक वक्ताओ ने अपने-अपने विचार रखे।

मुख्य वक्ता राम दयाल शर्मा ने अपने उद्बोधन में कहा कि व्यक्ति को धर्म, मर्यादा के अनुकूल अर्थ अर्जन करना हमारी शिक्षा का उद्देश्य रहा है लेकिन आज की शिक्षा का उद्देश्य येन केन प्रकारेण अर्थ अर्जन करना हो गया है। वर्तमान शिक्षा की निम्नलिखित चुनौतियां आज हमारे सामने उपस्थित है। जिनमे गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा का आभाव, शिक्षा में भारतीय जीवन मूल्यों का ह्रास, कारपोरेट जगत का शिक्षा में प्रवेश, गुणवत्ता पूर्ण शिक्षको का आभाव, मातृभाषा में शिक्षा का न होना, चरित्र निर्माण एवम् एकागर्ता का आभाव और शिक्षा का स्वय्यत न होंना है। इन सभी समस्याओं का हल करना उद्देश्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.