दरभंगा/पटना (विसंके)। दरभंगा जंक्शन पर गुरुवार को कपड़े के पार्सल में हुए विस्फोट से पूरे दरभंगा जक्शन पर भगदड़ मच गई। जंक्शन पर सिकंदराबाद-दरभंगा एक्सप्रेस से कपड़ों का पार्सल उतारा जा रहा था, इस दौरान एक पार्सल से विस्फोट हुआ। विस्फोट से कोई हताहत नहीं हुआ। विस्फोट के घटना के पीछे आतंकी कनेक्शन की जांच शुरू हो गई है।

ब्लास्ट की जांच एटीएस (एंटी टेरेरिस्ट स्क्वायर्ड) ने शुरू कर दी है। शुक्रवार की देर शाम एक विशेष टीम दरभंगा स्टेशन पहुंची जीआरपी के अधिकारियों से जानकारी हासिल की, घटना स्थल को देखने के बाद पार्सल बुक कराने वाले का नाम और मोबाइल नंबर भी लिया।

सूत्रों की मानें तो इस मामले में जो नाम सामने आया है उसकी तलाश तलाश एटीएस को पहले से है। हालांकि पता नहीं मिलने के कारण अब तक मोहम्मद सुफियान बचता रहा। बरहाल मामले की गंभीरता को देखते हुए बिहार पुलिस का आतंकवाद निरोधी दस्ता एटीएस को जांच सौंपी गई है। एटीएस टीम दरभंगा रवाना हो गई है। एटीएस के साथ फॉरेंसिक टीम भी जांच कर रही है। पार्सल बुकिंग करवाने वाले मोहम्मद सुफियान की जा रही है साथ ही एफएसएल की टीम जांच के लिए सिकंदराबाद रवाना हो गई है।

दरभंगा से पहले भी जुड़ा आतंकी कनेक्शन


पहले भी दरभंगा का नाम आतंकी गतिविधियों की वजह से चर्चा में रहा है। नेपाल सीमा से देश छोड़कर भाग जाने या फिर घुस आने की सुविधा के चलते मिथिलांचल के जिले आतंकवादियों का कार्यक्षेत्र बनता रहा हैं। एनआईए ने पूर्वी चंपारण से आइएम का आतंकवादी यासीन भटकल को गिरफ्तार किया था। इसके बाद तहसीन ने आतंकी संगठन की कमान संभाल ली थी।

श्रोत-दैनिक जागरण

Leave a Reply

Your email address will not be published.