बिहार प्रदेश भवन एवं पथ निर्माण संघ के पदाधिकारियों की बात श्रम अधीक्षक नहीं सुनते हैं और ना ही किसी मजदूरों का कोई कार्ड बनाया जाता है. जबकि दलालों के द्वारा जमा किये गए फॉर्म पर तुरंत विचार किया जाता है. उक्त बातें बिहार प्रदेश भवन एवं पथ निर्माण संघ राकेश लालजी ने जमुई में हुए भारतीय मजदूर संघ के जिला कार्यकारिणी की बैठक में कहा.

उन्होंने श्रम अधीक्षक के गैर जिम्मेदाराना रवैये की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि व्यक्तिगत स्वार्थ पूर्ति होने पर ही कार्य को अंजाम दिया जा रहा है. पुराने कार्ड धारकों के भी कार्ड नवीकरण नहीं किये जा रहे हैं.  इस कारण से सरकार द्वारा दिए जा रहे लाभकारी स्कीम से मजदुर वंचित हो रहे हैं.

स्थिति को ध्यान में रखते हुए बैठक में निर्णय लिया गया कि अगर आने वाले दिनों में श्रम अधीक्षक का रवैया में कोई बदलाव नहीं आता है तो आगामी 13 और 14 जुलाई को जिला सम्मेलन कर विरोध प्रदर्शन किया जायेगा.

बैठक में भारतीय मजदूर संघ प्रदेश के महामंत्री उमा प्रसाद वाजपेयी, प्रदेश मंत्री मनीष कुमार,  प्रदेश मंत्री मुरारी प्रसाद, प्रदेश उपाध्यक्ष उमा शंकर सिंह इत्यादि उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.