भागलपुर (विसंके)। पूरनमल सावित्री देवी बाजोरिया सरस्वती शिशु मंदिर नरगाकोठी भागलपुर के प्रांगण में श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पावन उत्सव के अवसर पर राधा कृष्ण रूप सज्जा प्रतियोगिता आयोजित हुई। कार्यक्रम का प्रारंभ विद्यालय के उपाध्यक्ष डॉ मधुसूदन झा, प्रधानाचार्य रामजी प्रसाद सिन्हा, शिशु मंदिर प्रभारी जितेंद्र प्रसाद एवं अभिभावक श्रीकांत मंडल ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। राधा कृष्ण रूप सज्जा प्रतियोगिता में कक्षा अरुण से पंचम तक विद्यालय के भैया बहनों ने भाग लिया है। राधा कृष्ण की वेशभूषा में सजे बच्चे लोगों को बरबस ही अपनी तरफ आकर्षित कर रहे थे। रूप सज्जा प्रतियोगिता में बच्चों ने खुलकर प्रतिभा का प्रदर्शन किया। बच्चों के मोहक प्रदर्शन देख अभिभावक अधिकारी एवं विद्यालय परिवार मंत्रमुग्ध हो गए। उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले बच्चों को पुरस्कृत किया गया।

svm 02

प्रधानाचार्य रामजी प्रसाद सिन्हा ने कहा कि विद्या भारती आधारित सरस्वती शिशु मंदिर का मूल कार्य है शिक्षा के साथ-साथ अपने संस्कारों से नई पीढ़ी को अवगत कराया जाए। भगवान श्री कृष्ण राधा की वेशभूषा में सजे नन्हे-मुन्ने बाल गोपाल के नटखट प्रदर्शन बेहद मनमोहक हैं। हमें अपनी संस्कृतियों को बचा कर उसे संवारने का काम करना है।

डॉ मधुसूदन झा ने कहा कि विद्या भारती का उद्देश्य है भैया बहनों के कौशल में निखार आए। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत एक छोटा सा छुपा हुआ कौशल जांच की एक प्रक्रिया है। इस प्रकार के कार्यक्रम से बच्चों के अंदर छिपी प्रतिभा का विकास होता है तथा जो भैया बहन भाग नहीं ले सके हैं उनके अंदर में इस प्रकार के कार्यक्रम में भाग लेने के प्रति रुचि जगेगी।

svm 03

अतिथि परिचय एवं धन्यवाद ज्ञापन करते हुए विद्यालय के प्रभारी जितेंद्र प्रसाद ने कहा कि भैया बहनों की प्रतिभा निखारने हेतु समय-समय पर विद्यालय में विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिता आयोजित की जाती है। अतः भैया बहनों के सर्वांगीण विकास हेतु इस प्रकार का कार्यक्रम समय समय पर विद्यालय में होता रहेगा।मंच संचालन विद्यालय के आचार्य शशिकांत गुप्ता द्वारा किया गया।

रूप सज्जा प्रतियोगिता में राधा के वेश में प्रथम स्थान अरूण कक्षा की बहन अनाव्या, द्वितीय स्थान प्रथम की बहन राधिका एवं तृतीय स्थान प्रथम की बहन अराध्या को पुरस्कृत किया गया। कृष्ण रूप में प्रथम स्थान उदय के भैया आयुष चौरषिया, द्वितीय स्थान प्रथम के भैया पिहू एवं तृतीय स्थान उदय के भैया परिक्षित को पुरस्कृत किया गया।

इस अवसर पर डॉक्टर मधुसूदन झा, रामजी प्रसाद सिन्हा, जितेंद्र प्रसाद, मनोज तिवारी, शशि भूषण मिश्र, दीपक कुमार, अमर ज्योति, अभिजीत आचार्य, सुबोध झा, सुबोध ठाकुर, शशिकांत गुप्ता, उपेंद्र प्रसाद साह, संजीव कुमार ठाकुर, सुप्रिया कुमारी, अंजू रानी, ललिता झा, कविता पाठक, रेणु कुमारी के साथ साथ विद्यालय के अभिभावक गण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.