सीवान के जुड़कर में बम ब्लास्ट, बच्चे के साथ पिता घायल


सीवान (विसंके)। सीवान के हुसैनगंज थाना क्षेत्र के जुड़कर में रविवार को बम फटने से एक युवक और उसका दो वर्षीय पुत्र घायल हो गए। वहीं बम की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे स्थानीय लोगों में सनसनी फैल गई। घायलों की पहचान जुड़कन निवासी विनोद मांझी और उसके दो वर्षीय पुत्र सत्यम कुमार के रूप में हुई है।

घायलों की स्तिथि गंभीर, पीएमसीएच रेफर


आनन-फानन में लोगों ने घायल पिता-पुत्र को इलाज के लिए सीवान सदर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां स्थिति नाजुक देख दोनों को प्राथमिक उपचार के बाद पटना रेफर कर दिया गया। चिकित्सकों ने बताया कि विस्‍फोट में विनोद का शरीर काफी जल गया है, जिसके कारण उसकी स्थिति काफी नाजुक है।

सगीर, विनोद के पास आया और कहा- कुछ देर के लिए झोला रखो, तभी फटा बम


वहीं विनोद की पत्‍नी ने बताया कि दोपहर में घर से कुछ दूरी पर जुड़कन मस्जिद के पीछे बथान है। वहां उसके पति और बेटे दोपहर में बैठे थे। इसी बीच गांव का सगीर साईं एक झोला लेकर आया। उसने मेरे पति को झोला थमाते हुए कहा कि एक घंटे में एक व्‍यक्ति आएगा तो उसे यह झोला दे देना। यह कहकर वह वापस लौट रहा था, इसी बीच झोला में विस्फोट हो गया। बम के धमाका से बथान क्षतिग्रस्त हो गया। बम की जोरदार आवाज सुनकर घर से बाहर आई तो देखा कि दोनों खून से लथपथ पड़े हैं। गांव के लोगों की मदद से दोनों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

घटना के बाद से ही सगीर और उसका पूरा परिवार फरार है। वहीं एसपी डॉ. अभिनव कुमार ने बताया कि मुजफ्फरपुर से एफएसल टीम को मामले की जांच के लिए बुलाया है और मामले के जाँच के लिए टीम का गठन कर दिया है। सूचना मिली है कि झोला देने वाला सगीर भी घायल हुआ है लेकिन उसका इलाज कहां चल रहरा है इसकी जानकारी अभी नहीं हुई है।

वहीं खबर लिखे जाने तक पुलिस के वरीय अधिकारी जुड़कन गांव में डेरा डाले हुए थें, साथ ही साथ मामले की जांच-पड़ताल में जुटे हुए हैं।

सवालों के घेरे में प्रशासन और सरकार, कहीं बड़ी घटना की सुगबुगाहट तो नहीं?


वर्ष 2021 के इन छः महीनों के दौरान बांका, भागलपुर, अररिया, दरभंगा और अब सीवन में बम बिस्फोट होना कहीं बड़ी घटना को आमंत्रित तो नहीं कर रहा है। इन सभी घटनाओं में एक समानता देखने को मिलती है, फिर भी प्रशासन और सरकार की नींद नहीं खुल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.