पूर्व मध्य रेल मजदूर संघ सम्बद्ध भारतीय मजदूर संघ, चुनाव को देखते हुए 10 दिवसीय जनसंपर्क अभियान शुरू की. यह अभियान दिनांक 1 जुलाई, 2019 से सोनपुर मंडल के मंडल प्रबंधक कार्यालय से शुरू हुआ. दूसरे दिन के कार्यक्रम में समस्तीपुर मंडल के मंडल कार्यालय, डीजल शेड कारखाना, कोचिंग कंपलेक्स एवं अन्य छोटे-छोटे यूनिट जो स्टेशन पर पदस्थापित हैं. उन सभी रेल कर्मचारियों से अपना संपर्क करते हुए दरभंगा शहर में रात्रि के समय कोचिंग कंपलेक्स में कार्यरत रेल बंधुओं से अपना संपर्क स्थापित किया है. इसके अलावा दरभंगा स्टेशन स्थित सभी रेलवे कार्यालयों में जाकर अपने रेल कर्मचारियों के बीच अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है.

कार्यक्रम के सिलसिले में यह स्पष्ट हो रही है कि यह रेल कर्मचारी अप परिवर्तन के मूड में है और वह कम्युनिस्ट और कांग्रेस समर्थित दोनों मान्यता प्राप्त यूनियन(AIRF& NFIR) को अब रेलवे में देखना बर्दाश्त नहीं करेगी l

पूर्व मध्य रेलवे संघ के महामंत्री सुमन कुमार सिंह ने बताया कि भारतीय रेल में निगमई करण और निजी करण की दौर शुरू हो चुकी है जिसका भारतीय मजदूर संघ पूर्ण रूप से विरोध करती है और भारतीय मजदूर संघ के आह्वान पर भारतीय रेल मजदूर संघ और  पूर्व मध्य रेल मजदूर संघ इस मुहिम को आगे ले जाते हुए आज आम रेल कर्मचारियों के बीच इस विषय को  सफलतापूर्वक रखने में सफल हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.