पूर्णिया, 26 जुलाई : बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर चौतरफा हमला हो रहा है. इस बार पूर्णिया विश्वविद्यालय में स्नातक द्वितीय खण्ड की परीक्षा का विलम्ब होने के बाद घोषित परीक्षा तिथि को स्थगित कर देना है. छात्र के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगा कर भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय एवं पूर्णिया विश्वविद्यालय के कुलपतियों का पुतला दहन किया गया।

पुतला दहन का नेतृत्व विश्वविद्यालय प्रतिनिधि आशुतोष कुमार दुबे कर रहे थे। आशुतोष ने कहा कि एक तो सत्र बहुत ही विलंब से चल रहा है जिस कारण तृतीय वर्ष का सत्र को पूरा करने में पांच से छः वर्ष का समय लग जाता है. वही लंबे अरसे बाद जब महामहिम कुलाधिपति महोदय सच नियमित करने की ओर अग्रसर है वैसे में भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय एवं पूर्णिया विश्वविद्यालय के कुलपति छात्रों के जीवन से लगातार खिलवाड़ कर भविष्य बर्बाद करने पर तुली हुई है. 26 जुलाई से प्रारंभ होने वाले का स्नातक द्वितीय खंड की परीक्षा को भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय के कुलपति एवं पूर्णिया विश्वविद्यालय के कुलपति की हठधर्मिता के कारण स्थगित कर देना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.

वही मौके पर विश्वविद्यालय संयोजक श्री रवि गुप्ता ने कहा कि छात्रों के जीवन से खिलवाड़ करना दोनों विश्वविद्यालय के कुलपति द्वारा छात्रों का मानसिक शोषण करना दर्शाता है.

इस मौके पर विश्वविद्यालय संगठनमंत्री राजेश श्रीवास्तव, पीयूष राज, आशीष चौधरी, आशुतोष कुमार झा, आशुतोष कुमार दुबे, दीपक कुमार झा, निखिल कुमार, ज्ञान प्रकाश कुमार, नूपुर शुभांगी, गौरव कुमार, कृष्णा कुमार, राजीव रंजन बबलू, मुकेश कुमार सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.