मुंगेर, २३ अप्रैल। दक्षिण बिहार प्रांत स्थित मुंगेर जिला इकाई के तत्वावधान में महाकवि संत सूरदास जी महाराज की जयन्ती समारोह जमालपुर में मनायी गई।मुख्य वक्ता सक्षम के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सह भारतीय पुनर्वास परिषद, ईस्टर्न -2के जेड. सी.सी. सदस्य डॉ. कान्त मनु चौरसिया ने कहा कि संत शिरोमणि सूरदास उन महान सन्तों में अग्रणी थे जिन्होंने अपनी रचनाओं के माध्यम से समाज में व्याप्त बुराइयों को दूर करने में महत्वपूर्ण योगदान किया। इनकी रचनाओं की विशेषता  लोक वाणी का अद्भुत प्रयोग रही। आज भी सन्त सूरदास के उपदेश समाज के कल्याण तथा उत्थान के लिए अत्यधिक महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने अपने आचरण तथा व्यवहार से यह प्रमाणित कर दिया है कि मनुष्य अपने जन्म तथा व्यवसाय के आधार पर महान नहीं होता है। विचारों की श्रेष्ठता, समाज के हित की भावना से प्रेरित कार्य तथा सद्व्यवहार जैसे गुण ही मनुष्य को महान बनाने में सहायक होते हैं।

कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला कुष्ठ निवारण अभियान के प्रमुख अधिकारी डॉ. भरत पोद्दार ने किया वाही मुख्य अतिथि के रूप में खंड संघचालक अम्बिका प्रसाद यादव मोजूद थे। मंच संचालन श्री मनोज कुमार मिश्र ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.