विद्या भारती मानक परिषद् द्वारा पूरनमल सावित्री देवी बाजोरिया सरस्वती शिशु मंदिर नरगाकोठी भागलपुर के प्रांगण में विद्यालय मूल्याकंन प्रारंभ संजीव झा, अजय कुमार, सुमन कुमार सिंह,पर्यवेक्षक मदनमोहन श्रीवास्तव एवं विद्यालय के प्रधानाचार्य अजीत कुमार ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।
विद्या भारती मानक परिषद् के मदनमोहन श्रीवास्तव ने वन्दना के उपरांत प्रेरक प्रस॔ग द्वारा भैया/बहनों का मार्गदर्शन किया। संजीव झा ने बताया कि पूरनमल बाजोरिया शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय में मूल्यांकनकर्ता प्रशिक्षण कार्यशाला में प्रशिक्षण ले रहे अधिकारियों के द्वारा आज भागलपुर विभाग के पाँच विद्यालय (पूरनमल सावित्री देवी बाजोरिया सरस्वती शिशु मंदिर नरगाकोठी, आनन्दराम ढॉढनियाॅ सरस्वती विद्या मंदिर भागलपुर, नोपानी सरस्वती विद्या मंदिर परबत्ती,सरस्वती विद्या मंदिर सबौर, एवं सरस्वती विद्या मंदिर पकडतल्ला कहलगांव)साथ ही मुंगेर विभाग के दो विद्यालय (सरस्वती विद्या मंदिर पुरानीगंज मुंगेर एवं सरस्वती विद्या मंदिर दौलतपुर जमालपुर) का मूल्यांकन किया गया ।यह मूल्यांकन का कार्य 04.09.2019 तक चलेगा। सभी जगहों पर आज का मूल्यांकन छह सत्रों में सम्पन्न हुआ जिसमें प्रथम सत्र में विद्यालय कर्मचारी के साथ बैठक, द्वितीय सत्र में पूर्व छात्र के साथ बैठक, तृतीय सत्र में शिशु भारती भैया/बहनों के साथ बैठक,चतुर्थ सत्र में विद्यालय के अभिभावकों के साथ बैठक, पंचम सत्र में समिति सदस्यों के साथ बैठक, एवं छठे सत्र में विद्यालय के आचार्यों के साथ बैठक हुई। सभी बैठकों में विद्या भारती मानक परिषद् के अधिकारियों द्वारा विद्यालय की गतिविधियों के बारे में जानकारी प्राप्त किया गया तथा इसे और बेहतर रूप प्रदान करने हेतु सुझाव लिया गया ।
इस अवसर पर विद्या भारती मानक परिषद् के अधिकारी, विद्यालय के प्रधानाचार्य, विद्यालय के कर्मचारी, पूर्व छात्र, विद्यालय के अभिभावक, विद्यालय के समिति सदस्य एवं सभी आचार्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.