नई दिल्ली (विसंके). अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए चलाया जा रहा निधि समर्पण अभियान सामाजिक समरसता का जीवंत उदाहरण बनकर सामने आ रहा है. वहीं, दिल्ली में कथित शांति दूतों ने एक बार फिर अपनी कायराना हरकत से भगवान राम के अनुष्ठान में खलल डालने का प्रयास किया है.

दिल्ली के मंगोलपुरी क्षेत्र में बुधवार रात एक हिन्दू युवक की सिर्फ इसलिए हत्या कर दी गई कि वह भगवान राम के मंदिर निर्माण के लिए निकाली गई शोभा यात्रा में जय श्रीराम का उद्घोष लगा रहा था.
बताया जा रहा है कि रिंकू शर्मा नामक जिस युवक की चाकूओं से हमला कर हत्या की गई है, वह बजरंग दल का मिलन प्रमुख है.

स्थानीय लोगों के अनुसार रविवार को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण को लेकर मंगोलपुरी में एक शोभायात्रा निकाली गई थी. इसे कारण रिंकू शर्मा के घर रात में 15 से 20 की संख्या में पहुंचे एक ख़ास समुदाय के कट्टर युवकों ने हमला बोल दिया. इन उन्मादी युवकों ने रिंकू शर्मा पर बेरहमी से इतने वार किए कि उनकी मृत्यु हो गई. दिल दहला देने वाली इस वारदात के बाद से मंगोलपुरी क्षेत्र में तनाव का वातावरण है. गुरुवार को इस घटना के विरोध में बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों द्वारा मंगोलपुरी थानपुलिस ने 5 आरोपियों को हिरासत में लिया है, जबकि शेष आरोपियों की जल्द ही गिरफ्तारी का भरोसा दिलाया है. उधर, विश्व हिन्दू परिषद दिल्ली प्रांत के अध्यक्ष कपिल खन्ना ने इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए हर स्तर पर कानूनी लड़ाई लड़ने की बात कही है. उन्होंने कहा कि पूरा संगठन पीड़ित परिवार के साथ है, उनको हर प्रकार से आर्थिक और सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.