पटना (विसंके)। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के 73 वें स्थापना दिवस के अवसर पर बिहार प्रदेश द्वारा आयोजित “मिशन आरोग्य संजीवनी” अभियान के तहत पटना विश्वविद्यालय स्थित साइंस कॉलेज परिसर में दर्जनों की संख्या में पौधरोपण किया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित अभाविप के प्रदेश सह मंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि जिस प्रकार से कोरोना जैसी भीषण महामारी में अभाविप के हर एक छोटे से छोटे इकाइयों में कार्यकर्ताओं द्वारा नर सेवा नारायण सेवा का भाव लेकर हर प्रकार से अपनी सुविधानुसार सेवा कार्य हुआ है, और जिस समय लोग अपने घरों से निकलने से परहेज कर रहे थे लोग डरे सहमे थे वैसे समय मे अभाविप मिशन आरोग्य रक्षक जैसे अभियान के माध्यम से गांव गांव जाकर हर एक कार्यकर्ता पीपीई किट पहनकर लोगो का टेम्परेचर, ऑक्सीजन लेवेल मापना एवं जरुरतमंदों को दवाई, रक्त, ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराने का भरपूर प्रयास हुआ साथ ही वैक्सीन को लेकर जिस प्रकार से जन जागरण अभियान चलाकर लोगों में एक सकारात्मक वातावरण तैयार करने का जो साहसी प्रयास हुआ है वो वास्तव में सराहनीय है।

ऐसे महामारी के समय में मानव जीवन पर जो संकट उतपन्न हुआ वो भुलाया भी नही जा सकता। लोगो को शुद्ध ऑक्सीजन का भी महत्व समझ में आने लगा। जिस प्रकार से नित्य दिन मनुष्य अपने जरूरतों को पूरा करने के लिए वायु प्रदूषित कर रहे है, पेर-पौधे काटे जा रहे हैं इससे प्रकृति पे संकट गहराता जा रहा है ऐसे में अभाविप का कार्यकर्ता भला कैसे चुप बैठ सकता है इसलिए अभाविप ने अपने स्थापना दिवस के अवसर पर 9 से 15 जुलाई तक मिशन आरोगय संजीवनी अभियान वृहद पैमाने पर चलाई जा रही है।

इस अभियान के तहत हमारे प्रिय छात्र-छात्राओं व कार्यकर्ताओं द्वारा लाखों वृक्षों को रोपित कर प्रकृति एवं पर्यावरण संरक्षण का महत्वपूर्ण संदेश दिया जा रहा है। वृक्ष प्रकृति में बाहर लाकर प्रकृति का संरक्षण एवं संवर्धन सुनिश्चित कर मौसम परिवर्तन कर दुष्प्रभाव से हमारी रक्षा करती हैं, वही चारों ओर हरियाली बिखेर कर नैसर्गिक सौंदर्य का आत्मिक एहसास भी करवाते हैं। हम सभी पूरे उल्लास के साथ व्यापक रूप से इस अभियान में सहभागिता कर अधिक से अधिक वृक्षारोपण कर इसे जन-जन का अभियान बनाकर धरती मां के पर्यावरण की रक्षा करने का संकल्प ठाना हैं।

इस अवसर पर पटना विश्वविद्यालय के विश्वविद्यालय संयोजक अभिनव कुमार, विभाग संयोजक शशि कुमार, प्रदेश कार्यकारिणी परिषद् सदस्य रोहित राज, प्रदेश सह कार्यालय मंत्री ऋषि राज, साइंस कॉलेज इकाई के मंत्री गौतम कुमार, अभिराज झा, ईशान आनंद, अंकित केसरी, विकाश कुमार सहित अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.