पटना, 06 अक्टूबर। मेघनाथ साहा एक प्रसिद्ध भौतिक के वैज्ञानिक थे। जिनका जन्म 6 अक्टूबर 1893 में पूर्वी बंगाल अर्थात बांग्लादेश की राजधानी ढाका से 45 किलोमीटर की दूरी पर शाओराटोरी गांव में हुआ था। इनके पिता का नाम जगन्नाथ साहा था। जो एक व्यवसायी (पंसारी) थे। इनके माता का नाम भुवनेश्वरी देवी था। अपने माता-पिता के ये पाँचवे संतान थे। परिवार के आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण इन्होंने बहुत संघर्ष किया।
इनके पिता चाहते थे कि ये व्यवसाय करे लेकिन मेघनाथ को व्यवसाय करना पसंद नहीं था।
इन्होंने कोलकाता विश्वविद्यालय से बीएससी एवं एमएससी की डिग्री ली। इन्होंने गणित एवं भौतिकी में बहुत कार्य किए।
इन्होंने तारों के ताप एवं उनके वर्णाक्रम के बीच के संबंधों के भौतिकीय कारणों के बारे में बताया। 26 वर्ष के उम्र में ही उन्हें इस खोज के कारण अंतराष्ट्रीय ख्याति मिल चुकी थी। 1956 में, कोलकाता में इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर फिजिक्स की स्थापना इनके ही अथक प्रयास से सफल हो पाया। इसके बाद ये वहाँ के निर्देशक बने।लंदन के “रॉयल एशियाटिक सोसाइटी” के फेलो इन्हें 34 वर्ष की उम्र में बनाया गया। भारत में भौतिक विज्ञान को बढ़ावा इन्ही के वजह से मिला। 16 फरवरी 1956 में इनकी मृत्यु हो गयी।
-अभिषेक कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published.