किशनगंज,21दिसम्बर। किशनगंज से राम भक्तों  का एक जत्था अयोध्या में राममंदिर निर्माण के संकल्प के साथ आगामी दिनांक 25 दिसम्बर को सुबह पांच बजे मंगलवार को “गरीब नवाज” ट्रेन से रवाना होंगे। यह बात यहां शुक्रवार को हलीम चौक स्थित श्मशान काली बाड़ी में बैठक के बाद जत्था के नेतृत्त्वकर्ता पूर्व नप उपाध्यक्ष-सह-अधिवक्ता अजय साहा ने बतायी। उन्होंने कहा कि जिले से रवाना होने वाले जत्था में कुल संख्या करीब साढ़े तीन सौ रामभक्तों की होगी जिसमें बड़ी संख्या में महिला व पुरूष अपने बच्चों के साथ जाएंगे। इसको ध्यान में रखते हुए  शुक्रवार को यहां एक बैठक बुलायी गई थी। उन्होंने कहा कि अयोध्या जाने की तैयारी हमलोगों ने तब की  जब माननीय सर्वोच्च न्यायालय से फैसले में देरी के लिए निराशा हाथ लगी थी। उसी समय से वहां जाकर केंद्र व राज्य सरकार से अपनी मांग कि अयोध्या मेरे राम की जन्म स्थली है और विध्वंस ढाँचा के स्थान पर राममंदिर के निर्माण में देरी से हमारे सब्र  का बांध अब टुट चुका है। इसीलिए जब राज्य व केंद्र में हमारी सरकार है और  हमलोग इसी आशा और अपेक्षा के साथ वर्ष 2014 में केन्द्र की एनडीए सरकार को पूर्ण बहुमत देकर सत्ता में लाने का काम किया था। फिर सरकार हमारी भावनाओं पर अध्यादेश लाकर राम मंदिर निर्माण के सारे विवाद की जड़ को समाप्त क्यों नही कर रही है।

अधिवक्ता साहा ने कहा कि यह सवाल देश के बहुसंख्यक समाज को परेशान कर रखा है, इसीलिए रामभक्तों की भावना को  केन्द्र  सरकार तक पहुँचाने के लिए यह कदम उठाए गए हैं। इसलिए हमलोगों ने अयोध्या जाने और रामलल्ला की भूमि का दर्शन करने की योजना बनाई है और योजना में हमारी संकल्प है कि राममंदिर का निर्माण अतिशीध्र हो। अपनी बात को खत्म करते हुए उन्होंने कहा, “अभी नहीं , तो फिर कभी नहीं” अन्य किसी सरकार से हमारी अपेक्षा नहीं  है, क्योंकि अन्य सभी पार्टियों के कार्यकाल को भी देश ने देखा है। देश की अन्य पार्टियां बहुसंख्यकों के  साथ धोखा और अन्य समाज के साथ तुष्टीकरण ही करते आए हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.