गया में विश्व प्रसिद्ध विष्णुपद् मंदिर एवं शक्तिपीठ माँ मंगला गौरी की गया रेलवे जंक्शन पर उपेक्षा की रही है। इस संबंध में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के कार्यकर्ताओं ने संज्ञान लेते हुए गया स्थित स्थानीय कार्यालय में बैठक का आयोजन किया।

बैठक में उपस्थित जिला संयोजक अमन कुमार मिश्रा ने कहा कि आज गयाजी की पहचान भगवान विष्णु के पद चिन्हों एवं मां मंगला गौरी शक्ति पीठ होने के कारण है। ऐसी स्थिति में गया रेलवे जंक्शन पर उनकी कलाकृति एवं ढांचा को न बनाना बिल्कुल गलत है। आज गया में पूरे दुनिया से लोग अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति हेतु आते हैं एवं यह मंदिर विश्व प्रसिद्ध हैl  ऐसी स्थिति में इस गयाजी कि प्राचीन इतिहास के साथ छेड़छाड़ होना कहीं से बर्दाश्त करने लायक नहीं हैlWhatsApp Image 2019-04-19 at 6.07.29 PM

मौके पर उपस्थित जिला सोशल मीडिया प्रमुख श्री अनिरुद्ध सेन ने कहा कि आज इस बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया है कि इस संबंध में रेल मंत्रालय एवं प्रधानमंत्री को एक लिखित आवेदन दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि विश्व प्रसिद्ध विष्णुपद मंदिर की उपेक्षा कुछ खास लोगों के द्वारा एक साजिश के तहत किया जा रहा है और सनातन धर्म की संस्कृति से खिलवाड़ किया जा रहा हैl

इस बैठक में जिला संगठन मंत्री नागेंद्र कुमार,प्रदेश कार्यसमिति सदस्य नवलेश कुमार,राजीव झा,अजित सिंह,कार्यलय मंत्री हर्ष कुमार,नीरव पासवान,मेहुल दास,गुंजन यादव,रौशन कुमार,गणेश ,संदीप सहित कई कार्यकर्ता एवम छात्र उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *