मधेपुरा (विसंके)। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्, मधेपुरा इकाई द्वारा पार्वती विज्ञान महाविद्यालय परिसर में डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती के अवसर पर पुष्पांजलि का कार्यक्रम आयोजित किया गया।
इस अवसर पर प्रांत शोध सह प्रमुख रंजन यादव व जिला एसएफएस प्रमुख दिलीप कुमार दिल ने पुष्पांजलि करने के बाद छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि डॉ बाबा साहेब आंबेडकर अद्वितीय प्रतिभा के अनुकरणीय है।
इस अवसर पर जिला सह एसएफडी प्रमुख मनीष कुमार व जिला संगठन मंत्री उपेंद्र कुमार ने कहा की वे अनन्य कोटि के नेता थे, जिन्होंने अपना समस्त जीवन समग्र समस्त जीवन समग्र भारत के कल्याण में लगा दिया। खासकर भारत के 80% दलित सामाजिक व आर्थिक तौर से अभिशप्त थे, उन्हें अभिशाप से मुक्ति दिलाना ही डॉ. आंबेडकर का जीवन संकल्प था।
धन्यवाद ज्ञापन करते हुए नगर कार्यकारिणी सदस्य आलोक कुमार व पप्पू कुमार ने कहा कि बाबा साहेब ने संघर्ष का बिगुल बजाकर आह्वान किया ‘छीने हुए अधिकार भीख में नहीं मिलते, अधिकार वसूल करना होता है।’ उन्होंने ने कहा है, ‘हिन्दुत्व की गौरव वृद्धि में वशिष्ठ जैसे ब्राह्मण, राम जैसे क्षत्रिय, हर्ष की तरह वैश्य और तुकाराम जैसे शूद्र लोगों ने अपनी साधना का प्रतिफल जोड़ा है। उनका हिन्दुत्व दीवारों में घिरा हुआ नहीं है, बल्कि ग्रहिष्णु, सहिष्णु व चलिष्णु है।
मौके पर नगर सह मंत्री अंसू कुमार राज, नगर कार्यकारिणी सदस्य नीतीश कुमार, अंकित कुमार, अभिषेक कुमार, लव कुमार, विकास कुमार, शंकर कुमार ज्योति कुमारी, प्रिय कुमारी, अंजली कुमारी सहित दर्जनों छात्र-छात्राएं कार्यक्रम में उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *