पटना, 11 अगस्त : आज विश्व संवाद केंद्र सभागार में दधीचि देहदान समिति द्वारा प्रेस वार्ता किया गया. प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए दधीचि देहदान समिति के महामंत्री विमल जैन ने कहा कि दधीचि देहदान समिति अंग दान के लिए लोगों में जागरूकता फैलाने का प्रयास कर रहा है जिसमे उन्हें सफलता भी मिला है. पुरे बिहार में 1000 लोगों ने अपना नेत्र दान किया है जिनमे 300 लोगों को सर्टिफिकेट देना बंकि है. भारत में 2050 तक 50 करोड़ कोर्निया की आवश्यकता समाज के लोगो को पड़ेगी. वर्त्तमान में देहदान से प्राप्त अंग को रखने के परेशानी हो रही है लेकिन यह परेशानी इस वर्ष के अंत तक समाप्त हो गाएगी. पीएमसीएच में 13 अगस्त को आई. बैंक खुलने की संभावना है वही अक्तुबर ने भागलपुर, गया और दरभंगा में आई बैंक खुल जाएगी है. 31 दिसम्बर तक बिहार के सभी मेडिकल कॉलेज में आई बैंक खुल जायेंगे.

प्रेस वार्ता में डॉ. सुभास प्रसाद वरीय नेत्र रोग चिकित्सक , विभूति पप्रसन्न सिंह नेत्र रोग विभागाध्यक्ष इंदिरा गाँधी आयुर्विज्ञान संसथान, पटना उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.