दत्तोपंत ठेगड़ी जी संघ परिवार की उन शख्सियत में आते हैं, जिनमें तत्व चिंतक, उत्कृष्ठ व्यक्तित्व और बेहतर संगठक के गुण थे. समाज के हर क्षेत्र में उनका समान नेतृत्व था.उनके सम्पर्क में जो भी रहा, उसे कुछ न कुछ सीखने को ही मिला है. उन्हें स्नेह, करुणा और लीडरशिप के गुण अपने परिवार से ही मिले. इन सब प्रतिभाओं के बावजूद वह आलौकिक न होकर लाेगाें के बीच उन जैसा ही बनकर पहुँचे. ऐसे व्यक्तित्व का जन्म शताब्दी वर्ष मनाने का आशय सिर्फ उनके प्रति कृतज्ञता जताना नहीं है. बल्कि इस आयोजन के माध्यम से उनके विचारों को लोगों के बीच लेकर जाना है. उक्त उद् गार सरसंघ चालक श्री मोहन भागवत जी ने नागपुर में श्री दत्तोपंत ठेगड़ी जनशताब्दी समारोह के शुभारंभ अवसर पर व्यक्त किए.
श्री भागवत ने कहा कि एक महान शख्सियत के विचारों को समाज तक लेकर जाना इतना आसान नहीं है. समाज इसे पूर्ण विश्वास के साथ ग्रहण करे, इसके लिए जरूरी है कि पहले हम ही उन विचारों को आत्मसात करें. उनकी बताई दिशा में चलकर ही उनके विचारों की सत्यता साबित कर सकते हैं।

WhatsApp Image 2019-11-11 at 14.04.23

वे एक राष्ट्र ऋषि थे—–

इस अवसर पर दत्तोपंत ठेगड़ी जन्म शताब्दी समारोह आयोजन समिति की अध्यक्ष पूर्व लोकसभा अध्यक्ष श्रीमति सुमित्रा महाजन ने कहा कि ठेगड़ी जी अपने आप में एक संगठन थे. एक बड़ी शख्सियत होने के बावजूद वह आखिरी वक्त तक खुद को सिर्फ एक स्वयंसेवक ही मानते थे. वह हमेशा कार्यकर्ताओं को संदेश देते थे कि संगठन का काम करना है तो खुद को नियमों में बांधों, क्योंकि यह ईश्वरीय कार्य है. श्रीमति महाजन ने उन्हें समरसता का समर्थक बताते हुए कहा कि उनकी सोच दूरगामी थी, वे वाकई राष्ट्र ऋषि थे. इस मौके पर कार्यक्रम का संचालन भारतीय किसान संघ के राष्ट्रीय संगठन मंत्री दिनेश कुलकर्णी जी ने किया.

WhatsApp Image 2019-11-11 at 14.04.22

बिहार में विविध आयोजन—
दत्तोपंत ठेगड़ी जन्म शताब्दी समारोह को लेकर बिहार में भारतीय मजदूर संघ से सम्बद्ध कई इकाई संगठनों ने अनेक कार्यक्रम आयोजित की.
वैशाली जिले में भारतीय मजदूर संघ द्वारा प्रधान डाक घर के प्रांगण में समारोह का आयोजन किया गया. उद्घाटन सत्र में भारतीय डाक कर्मचारी संघ के मंत्री अखिलेश्वर कुमार ने भारत माता की जय का उद्घोष करवाते हुए दन्तोपंत ठेंगडी के जीवन के बारे में कार्यकर्ताओं को बताया.
पटना में जी.पो. सभागार में आयोजित कार्यक्रम में भारतीय मजदूर संघ, भारतीय किसान संघ और स्वदेशी जागरण मंच के प्रतिनिधियों के मिलकर दन्तोपंत ठेंगडी के जीवन ज्ञान के बारे में चर्चा की.
बेगुसराय में बिहार प्रदेश मध्याह्न भोजन कर्मचारी रसोईया संघ सम्ब्ध भारतीय मजदूर संघ ने दत्तोपंत ठेंगड़ी जी के जन्म उत्सव हर्षोल्लास से मनाया गया जिसमे अध्यक्ष सुदिना देवी, मंत्री सुनील कुमार सिंह इत्यादि उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.