नरकटियागंज: नरकटियागंज में छात्रों के साथ हो रहे अत्याचार को लेकर आज स्थानीय अनुमंडल पदाधिकारी चंदन चौहान को ज्ञापन सौंपा गया. इस अवसर पर विद्यार्थी परिषद का एक प्रतिनिधिमंडल अनुमंडल पदाधिकारी से मिलकर मामले की जांच की बात कही.  प्रदेश मंत्री रौशन कुमार ने कहा कि विद्यार्थी परिषद साल भर छात्र हित का काम करती है हम सभी जानते हैं कि कोरोना के कारण गरीबों की आर्थिक स्थिति कमजोर हुई है. नरकटियागंज अनुमंडल के विभिन्न प्लस टू स्कूलों में साइकिल राशि, प्रोत्साहन राशि और  छात्रवृत्ति दिलाने के नाम पर दलालों के माध्यम से प्रधानाध्यापक छात्रों से अवैध उगाही कर रहे हैं.

वहीं जिला संयोजक सुजीत मिश्रा ने कहा कि नरकटियागंज अनुमंडल के प्रतिष्ठित निजी शिक्षण संस्था अभिभावकों को फीस के लिये लगातार फोन कर रहे हैं एवं उनको मैसेज कर रहे है जबकि हाईकोर्ट का निर्णय है कि लॉकडाउन के अवधी में जो स्कूल ऑनलाइन पढ़ा रहे है वही फीस लिया जाए और अभिवावकों को परेशान न किया जाए. लेकिन विद्यालय पूरा फी मांग रहा है इस सब की जांच होनी चाहिये। प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रशांत मौर्य ने बताया कि विद्यार्थी परिषद इस संकट के समय छात्र, अभिवावक एवम स्कूल प्रबंधन सभी के साथ है विद्यार्थी परिषद सरकार से मांग करती है कि निजी शिक्षण-संस्थानों को सरकार मुआवजा दे।इस अवसर पर नगर मंत्री आशीष ठाकुर समेत रौनक कुमार थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.