नौबतपुर स्थित सरस्वती विद्या मंदिर के प्रांगण में चमकी बीमारी एवं लू के कारण अपने प्राण गवाएं हुए मृत लोगों की आत्मा की शांति के लिए शोक सभा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर सरस्वती विद्या मंदिर नौबतपुर के सभी छात्र-छात्राएं और आचार्य के साथ-साथ अभिभावक भी मौजूद थे।

पर्यावरण में आ रहे बदलाव के कारण कई प्रकार की बीमारियों ने लिया जन्म

सरस्वती विद्या मंदिर नौबतपुर के प्रधानाचार्य राकेश कुमार मिश्रा ने कहा कि इस वर्ष बिहार में सबसे अधिक बच्चों की मृत्यु चमकी बीमारी और लू के कारण हुआ है। पर्यावरण में बदलाव के कारण कई प्रकार की बीमारियों ने जन्म ले लिया है जिसका मुख्य कारण वृक्ष की कटाई है। पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए हमें अधिक से अधिक वृक्ष लगाने की आवश्यकता है। जिससे हम और हमारी आने वाली पीढ़ी सुरक्षित रह सकेंगे और इस तरह की बीमारियां को दूर कर सकेंगे।

SVM SASTRINAGAR

Leave a Reply

Your email address will not be published.