आगरा/पटना (विसंके)। भारत में लगातार बढ़ती लव जिहाद और धर्मांतरण की घटनाओ के विरुद्ध शंखनाद करते हुए विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ. सुरेंद्र जैन ने आज कहा कि हम भारत को चादर और फादर से मुक्त करके रहेंगे। उन्होंने कहा कि एक ओर जहां हिंसा, घृणा, वासना तथा महिला अत्याचार के लिए कुख्यात इस्लाम अपना जिहादी बर्चस्व बढ़ाने में लगा हुआ है, वहीं दूसरी ओर इसाई मिशनरियां अपने नए-नए प्रपंचों के माध्यम से भोले-भाले गरीब व वंचित समाज के लोगों को अपने जाल में फंसाने में लगी है। विश्व हिंदू परिषद भारत को उन षड्यंत्रकारियों से मुक्त मुक्ति दिलाएगा।

आगरा के मदिया कटरा स्थित होटल वैभव पैलेस मैं आयोजित विश्व हिंदू परिषद के स्थापना दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ब्रज प्रांत की पहचान ताजमहल, बाबर या शाहजहाँ जैसे आक्रमणकारियों से नहीं अपितु, भगवान श्रीकृष्ण व यहां के राष्ट्र पुरुषों से है। हिंदुओं के हत्यारे कभी राष्ट्रपुरुष नहीं हो सकते। यह बात भारत सरकार ने मोपला हिंदू नरसंहार मैं शामिल 387 आक्रमणकारियों को भारत की स्वतंत्रता सेनानियों की सूची से बाहर करके स्पष्ट कर दी है। तालिबान व तालिबानी संस्कृतियों को मानने वाले व उनके समर्थकों को भारत में रहने का अधिकार नहीं है। हम भारत को अफगानिस्तान बनाने के उनके सपने को पूरा नहीं होने देंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि विश्व हिंदू परिषद के 57 वर्ष के स्वर्ण इतिहास में राम मंदिर ,बाबा अमरनाथ, रामसेतु, साधु संत के संदर्भ में अनेक स्मरणीय कार्य किए हैं। हमने धर्मांतरण, लव जिहाद व  गोवध रोकने व हिंदुओं को समृद्ध शाली, शक्तिशाली व स्वावलंबी बनाने की दिशा में अनेक कार्य किए हैं। आज से प्रारम्भ हुए पूरे सप्ताह में पूरे प्रांत में स्थापना दिवस के कार्यक्रम किए जाएंगे।

कार्यक्रम में  सुनील पारासर, प्रांत उपाध्यक्ष, आशीष आर्य, दीपक अग्रवाल प्रांत संपर्क प्रमुख , राकेश त्यागी, अनूप वर्मा, धर्मेन्द्र वर्मा, निशांत सिकरवार, मदन वर्मा, राजीव शर्मा, अभिषेक शर्मा अनुपम पंडित, बंटी ठाकुर, पवन धाकड़, मकुल गुलजार, दीपक जैन तेजस दंडोतिया आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.