अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दरभंगा जिला इकाई द्वारा नागरिकता संसोधन कानून व भारतीय राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर पंजी के समर्थन में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद दरभंगा जिला इकाई द्वारा स्थानीय मिश्रटोला दरभंगा कार्यालय से आजद चौक, नाक नंबर पांच, मिर्जापुर चौक, राजकुमार गंज, आयकर चौराहा, विश्वविद्यालय चौरंगी तक CAA  व NRC के समर्थन में आभाविप के जिला संयोजक सूरज मिश्रा व प्रदेश कार्य समिति सदस्य मणिकांत ठाकुर के नेतृत्व में यह पैदल मार्च निकाला गया।
इस अवसर पर प्रदेश कार्य समिति सदस्य सुमित सिंह ने कहा कि जिस प्रकार पूरे देश मे मौकापरस्त देशद्रोही तत्व अपनी राजनीति चमकाने के लिए देश की जनता को भरका कर अपनी राजनीति महत्वाकांक्षा चला रहे हैं वह देश के लिए चिंता का विषय है जिस प्रकार वामपंथी से लेकर सोनिया, पप्पू तक अपनी राजनीतिक गोटी सेट कर रहा है , देश के कुछ चुनिंदा विश्विद्यालय जैसे अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय हो या जेएनयू हो हम देख रहे है कैसे बाहरी तत्व विश्वविद्यालय को जला रहा है, हमारा साफ सन्देश है कि यह बिल नागरिकता छिनने का नही देने का बिल है तो कैसा विरोध।

WhatsApp Image 2019-12-19 at 16.15.39
वहीँ इस अवसर पर विभाग संगठन मंत्री हेमंत झा ने कहा कि नागरिकता देने के बिल का बिरोध जो कर रहे है आज वह पूरे देश मे नंगे हो रहे हैं जबकि बिल में किसी भारतीय को बाहर करने की बात नही की गई है. आज हम देख रहे है मौकापरस्त लोग रेलवे से लेकर अन्य सरकारी संस्था को फूंक रहा है.क्या इस बिरोध के आर में जो दल राजनीति चमकना चाह रहा है क्या यह सही है, क्या ऐसे लोगों को नागरिकता देने से देश असुरक्षित नही होगा ऐसे तत्वों और ऐसे मानशिकता पर सीधा आवश्यकता है बल प्रयोग का, देश की जनता समझ रही है यह बिल ऐतिहासिक भूल का सुधार है ,हम इस बिल के साथ है तमाम जनता जो भारत के है साथ है, हम अपने सब्सिडियरी के पैसे से बांग्लादेशी, पाकिस्तानी, अफगानिस्तान के मुसलमानों को नही बसा सकते हैं, और जो भारतीय मुस्लिम है हम उनके साथ है क्योकि इस बिल से किसी भारतीय को डरने की आवश्यकता नही है।
वही इस अवसर पर प्रदेश कार्य समिति सदस्य पिंटू भंडारी ने कहा कि सीएए व एनआरसी बिल पास होने के उपरांत देख रहे है किस प्रकार देशद्रोही इस बिल के बिरोध में देश को जला रहा है , ऐसे तत्व कभी देश मे नही टिकेंगे जो देश तोड़ने का काम कर रहे हैं।
वहीं इस अवसर पर उत्सव पराशर ने कहा कि जिस प्रकार देश के भोले भाले मुस्लिमों को बिल से डराकर उन्हें सड़क पर उतारकर सरकारी संपत्ति को नुकसान किया जा रहा यह समाज के लिए उचित नही, आज विभिन्न सरकारी सम्पतियों को नुकसान पहुँचाया जा रहा हम ऐसे राजनीतिक दलों को सचेत कर रहे कि भारत की जनता कभी इस बहकावे में नही आएगी और ऐसे लोग कभी अपने एजेंडे में कामयाब नही होगा।
इस पैदल मार्च में ब्रिज मोहन सिंह, अमरजीत कुमार, मंगल कुमार, आशीष कुमार, गोपाल कुमार मिश्रा, आशुतोष कुमार, विकास कुमार, निखिल कुमार, आशुतोष गौरव, राघव आचार्य, अम्न मिश्रा, बीरेंद्र कुमार, यश जुमनानी,आदर्श आनन्द, दुर्गेश कुमार, मंजय कुमार, विकास कुमार झा, उमेश कुमार, ब्रजेश्वर कुमार, आर्यन सिंह, प्रिंस कुमार चौधरी, रवि राज, राजीव प्रकश मधुकर, धरम , मोनू, श्रीकांत कुमार, कौशल कुमार, नितेश यादव, दिलीप कुमार गुप्ता सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.