बिहार प्रदेश मध्याह्न रसोईया संघ ने सुदीना देवी की अध्यक्षता में बिहार के मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष को पत्र लिख कर श्रमिकों की समस्याओं के बारे में अवगत करवाया है. भारतीय मजदूर संघ का हवाला देते हुए पत्र के माध्यम से उन्होंने बताया कि बिहार प्रदेश मध्याह्न रसोईया संघ देश के सबसे बड़े श्रम संगठन से संबद्धता प्राप्त संगठन है. पत्र के माध्यम से उन्होंने अनुरोध किया है कि राज्य के सभी स्कूलों में रसोईयों को दौ सौ पचास रूपये की बढ़ोतरी से परिवार एवं बच्चों का भरण– पोषण नहीं की जा सकती है. साथ ही स्कूलों के शिक्षको द्वारा बार– बार काम से निकालने की धमकी भी दी जाती है.

रसोईया संघ द्वारा इस पत्र में मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष से न्यूनतम राशि बढाने के  मामले में संज्ञान लेने की अपील की गयी है.

ज्ञात हो कि बिहार प्रदेश मध्याह्न रसोईया संघ पिछले कई महीनों अपनी इस मांग को पूरी करने के लिए कई तरह के आंदोलन व कार्यक्रम कर चुकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.