पूरनमल बाजोरिया शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय नरगाकोठी के प्रांगण में क्षेत्रीय प्राध्यापक दक्षता वर्ग का उद्घाटन तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के कुलपति अवध किशोर राय, प्रतिकुलपति राम यतन प्रसाद, छात्र संकायाध्यक्ष योगेन्द्र महतो, विद्या भारती उत्तर पूर्व क्षेत्र के क्षेत्रीय संगठन मंत्री ख्याली राम, क्षेत्रीय सचिव दिलीप कुमार झा, प्रदेश सह सचिव प्रकाश चन्द्र जायसवाल एवं संम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय वाराणसी के शिक्षा संकाय के डीन प्रो. सुभाष चन्द्र त्रिपाठी  ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया ।

कुलपति अवध किशोर राय ने कहा कि शिक्षा का मतलब है सर्वांगीण विकास। शिक्षकों की गुणवत्ता आवश्यक है क्योंकि इसी से समाज एवं देश बदल सकता है। इतिहास को झांकने से पता चलता है कि शिक्षा की एक प्रथा थी। हमें अपनी संस्कृति को ध्यान में रखना चाहिए। हमें अपने आप को, मन को,दिल को, वाणी को संयमित कर अविरल ज्ञान की गंगा बहानी चाहिए। यहाँ पर संस्कार झलकता है ।हमें अपने अन्दर के संस्कार और संस्कृति को कायम रखना है ।शिक्षक का कर्तव्य है छात्रों के अन्दर अपनी छवि कायम करना।बदलते वक्त के साथ खुद को अपडेट करने का एक अहम जरिया है प्रशिक्षण।

प्रति कुलपति राम यतन प्रसाद विद्या भारती की प्रशंसा करते हुए बोले कि आप शिक्षा के माध्यम से समाज में जागरूकता का कार्य कर रहे हैं। समय-समय पर इस प्रकार के दक्षता वर्ग से शिक्षकों को अपने अन्दर झांकने, कुछ बेहतर कर गुजरने की प्रेरणा मिलती है।

दिलीप कुमार झा ने कहा कि विशिष्ट संकल्पना को लेकर विद्या भारती कार्य कर रही है ।विद्या भारती का चिंतन है जो शिक्षा का दर्शन है वही जीवन का दर्शन होना चाहिए ।मनुष्य दूसरे मनुष्य के निर्माण में सहायक हो यही हमारा लक्ष्य है ।व्यवहार परिवर्तन अगर शिक्षा से नहीं होता है तो वह शिक्षा बेकार है ।छात्रों के मन,आत्मा, शरीर, बुद्धि का विकास सही रूप से हो इसलिए इस प्रकार का कार्यक्रम आवश्यक है ।शिक्षा महज परीक्षा पास करने या नौकरी रोजगार पाने का साधन नहीं है ।शिक्षा विद्यार्थियों के व्यक्तित्व विकास, अन्तर्निहित क्षमताओं के विकास करने और स्वस्थ्य जीवन निर्माण के लिए जरूरी है ।

WhatsApp Image 2019-09-19 at 14.57.29

प्राध्यापक दक्षता वर्ग में विद्या भारती उत्तर पूर्व क्षेत्र के तीन महाविद्यालय पूरनमल बाजोरिया शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय नरगाकोठी, आदित्य प्रकाश जलान शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय कुदरूम राँची,एवं भारती शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय सदारपुर मुजफ्फरपुर के लगभग चालीस प्राध्यापक ने भाग लिया। मंच संचालन प्रदेश सह सचिव प्रकाश चन्द्र जायसवाल ने किया तथा अतिथि परिचय प्रधानाचार्य अजीत कुमार पाण्डेय द्वारा किया गया। कुलपति एवं प्रति कुलपति के द्वारा महाविद्यालय प्रांगण में वृक्षारोपण का कार्य किया गया ।

इस अवसर पर डॉ. चन्द्र भूषण सिंह, ब्रजभूषण तिवारी, विजेन्द्र कुमार, रामजी प्रसाद सिन्हा, प्रभाष मिश्र, अशोक मिश्र, डॉ. दीप्तांशु भास्कर, राजकुमार ठाकुर, गौरी शंकर मिश्र, अवनीश सिंह, राकेश कुमार पाल, शशि भूषण मिश्र, सरिता सिंह,  अमृता कुमारी, अनुपमा दुबे एवं सभी प्राध्यापक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.