चाइनीज वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए केंद्र सरकार भरपूर कोशिश कर रही है। लेकिन जमाती उन्मादियों और शांतिप्रिय समुदाय के कारण कोविड-19 से संक्रमित मरीजों की संख्या जिस तेजी से बढ़ रही है उसका अंदाजा लगाना बहुत ही मुस्किल है। सूत्रों से मिली सुचना के अनुसार बिहार में लगभग 80% मरीज इसी वर्ग के है।
चाइनीज वायरस के खिलाफ बिहार की बेटियों ने अपनी कमर कस ली है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, दरभंगा जिला छात्रा इकाई द्वारा व्यापक पैमाने पर मास्क निर्माण किया जा रहा है। छात्रा कार्यकर्ताओं ने कहा कि चाइनीज वायरस (कोविड-19) के मद्देनजर आभाविप छात्रा इकाई द्वारा मास्क निर्माण का कार्य आरंभ किया गया है, संगठन का उद्देश्य है कि वैसे व्यक्ति जिनके पास मास्क की उपलब्धता नहीं हो पा रही है उनतक मास्क उपलब्ध करवाया जाए। चाइनीज वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकना आभाविप का उद्देश्य है। इसी के मद्देनजर छात्रा बहनों ने ठाना है हमे कोरोना को हराना है, हमारा मास्क बनाने का कार्य जारी है जो आगे भी जारी रहेगा।
मास्क बनाने और जन-जन तक मास्क पहुँचाने के अभियान को सफल बनाने के लिए प्रान्त सह छात्रा प्रमुख पूजा कुमारी, छात्र संघ महासचिव प्रीति कुमारी, एमआरएम महाविद्यालय आभाविप राष्ट्रीय कलामंच प्रमुख अन्नू कुमारी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.