लौरिया (विसंके)। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, लौरिया इकाई द्वारा धोबिनी पंचायत के मलाही टोला गांव में भारतरत्न बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर के जयंती पर समरसता दिवस मनाई गई। इस अवसर पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के जिला संयोजक सुजीत मिश्रा, प्रखंड विकास पदाधिकारी अजीत कुमार प्रसाद, नगर सह संयोजक सैयद आसिफ हैदर गद्दर चौधरी ने बाबा साहेब आंबेडकर के तैल चित्र पर माल्यार्पण तथा पुष्पांजलि अर्पित की और पढ़ने वाले गरीब बच्चों के बीच कलम कॉपी एवं मास्क का वितरण किया।
इस मौके पर जिला संयोजक सुजीत मिश्रा कहा कि आज डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के संविधान की ताकत के वजह से भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश बनने में अपनी अग्रणी भूमिका बना पाया है। इतना ही नहीं डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने महिला सशक्तिकरण का जो काम किया था। वह अपने आपमें अदभूत और अकल्पनीय था। उस दौर में महिलाओं के सम्मान के लिए खड़ा होने वाले डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के कारण आज समाज के अंदर में सभी वर्ग की महिलाएं सभी क्षेत्रों में आगे बढ़कर के भारत का नाम रोशन कर रही है।
वही नगर सह संयोजक सैयद आसिफ हैदर रवि यादव गद्दर चौधरी ने संयुक्त रूप से कहा भीमराव अंबेडकर जिसे आज कुछ तथाकथित लोगों ने एक जाति विशेष का बनाकर रखने की जो कोशिश कर रही है। महिला सशक्तिकरण का काम डॉक्टर भीमराव अंबेडकर का उन लोगों के ऊपर तमाचा है। प्रखंड विकास पदाधिकारी अजीत कुमार प्रसाद ने कहा कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने जाति विशेष से ऊपर उठकर के समस्त धर्म की महिलाओं के अधिकार दिलाने के लिए जो काम किया है। वह आज के युग में उन्हें महान बनाता है। लेकिन उसके बाद भी भीमराव अंबेडकर ने किसी के प्रति कोई मन में विष नहीं बल्कि समाज को अमृत देने का काम किया। वह अमृत आज का भारतीय संविधान है।जिसमें देश के हर एक नागरिक को उसके अधिकारों एवं अभिव्यक्ति संकलित है। इस दौरान मुख्य रूप से विकास जायसवाल राकेश कुशवाहा राजा बाबू चौधरी राजा चौधरी मुमताज मियां उज्जवल रुपेश मनीष वैभव आशुतोष नितेश त्रिलोकी साह शत्रुघ्न साह रिंकू गोंड रितेश पासवान सहित दर्जनों कार्यकर्ता आम लोग उपस्तिथ थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.