वाणिज्य महाविद्यालय में इकाई पुनर्गठन किया गया।

पटना, 16 नवंबर। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् शिक्षा परिवार की सामूहिक अंतर्निहित शक्ति में विश्वास रखकर रचनात्मक कार्यों में छात्रों के कर्तव्य का संयोजन करने वाला एवं दलगत राजनीति से ऊपर रहकर छात्र हित व राष्ट्रीय हित के कार्य करने वाला विश्व का एकमात्र सबसे बड़ा छात्र संगठन के रूप में उभरा है।

अभाविप पटना विश्वविद्यालय छात्र हित को देखते हुए प्रत्येक वर्ष संगठन विस्तार के निमित्त आज पटना विश्वविद्यालय के वाणिज्य कॉलेज इकाई का बैठक व सत्र 2017-18 के लिए वाणिज्य महाविद्यालय में इकाई पुनर्गठन किया गया।

अध्यक्ष-सतीश कुमार, कॉलेज मंत्री- आकाश श्रीवास्तव, को सर्वसम्मति से बनाया गया। उपाध्यक्ष-गौतम चौरसिया,सौरभ कुमार, अभिनव पांडे, शिवानी कुमारी, जय गुप्ता, सह मंत्री- विवेक रंजन, असीमा कुमारी, शुभम गुप्ता, मृणाल कुमार, अनुराग सिंह, कुमार अंकित, छात्रा प्रमुख-प्रतिभा कुमारी,सह छात्राप्रमुख-चंदा व अनामिका कुमारी, एनएसएस प्रमुख- सुमन कुमार व मनीष कुमार, सोशल मीडिया प्रमुख-अमन कुमार,बीबीए प्रमुख-यशराज, कला-संस्कृति प्रमुख- राणा प्रताप को दायित्व सौंपा गया।

इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रदेश सह मंत्री सुजीत पांडे व विश्वविद्यालय प्रमुख विजय प्रताप छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि विद्यार्थी परिषद कॉलेज कैंपस में सालों भर सक्रिय रहने वाला इकलौता छात्र संगठन है। इस के इतिहास में जितना छात्र हित के संघर्ष के लिए स्वर्णिम अध्याय में दर्ज है। वही देश में फैले नक्सलवाद आतंकवाद भ्रष्टाचार पर आवाज उठाता रहता है।

इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए विभाग संयोजक विक्की राय व विभाग संगठन मंत्री गौरव प्रकाश ने कहा कि छात्रों की सुरक्षा पर लाने वाला विश्वविद्यालय से जुड़ी विभिन्न मुद्दों पर कुलपति व विश्वविद्यालय प्रशासन को ध्यानाकर्षण कराना रचनात्मक कार्यक्रम के माध्यम से छात्रों के व्यक्तित्व निर्माण की बात रखते हुए संगठनात्मक संस्कार से सृजित कर राष्ट्रवाद के विचारों को बढ़ावा देने का आह्वान किया।

इकाई पुनर्गठन की घोषणा विश्वविद्यालय संयोजक श्री राम शर्मा ने किया वह धन्यवाद ज्ञापन जिला संयोजक राहुल कुमार और मंच का संचालन विश्वविद्यालय मंत्री संदीप आनंद ने किया।

मौके पर विश्वविद्यालय उपाध्यक्ष अंकित कुमार, नीतीश कुमार ,साह मंत्री मुकेश कुमार, गौरव कुमार, सुधांशु झा, रविंद्र कुमार, राजा प्रताप सिंह, श्रीकांत कुमार, सौरभ सिंह सहित दर्जनों छात्र कार्यकर्ता उपस्थित थे।

By nwoow

Leave a Reply

Your email address will not be published.