पोस्टर विमोचन करते हुए अभाविप के कार्यकर्ता

पटना, 02 नवम्बर।  अखिल भारतीय विधार्थी परिसद् पटना महानगर द्वारा, देश के दक्षिणी छोर केरल में लगातार राष्ट्रीय विचारधारा के साथ जुड़े हुए लोगों की हत्याएं या हत्या की साजिश के संदर्भ में ‘चलो केरला’ के तहत प्रेस वार्ता ओर पोस्टर व पर्चा का विमोचन किया गया। 11 नवंबर को अभाविप के ‘चलो केरल’ के आह्ववान पर हजारों विद्यार्थी केरल में वामपंथी हिंसा के विरोध प्रदर्शन करेंगे।

पोस्टर विमोचन करते हुए अभाविप के प्रदेश मंत्री दीपक कुमार व पटना विश्वविद्यालय सीनेटर व छात्र नेता पप्पू वर्मा ने कहा कि पिछले 18 महीनों में 18 ऐसे केरलवासियों की हत्या भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के कार्यकर्ताओं और उनके समर्थकों द्वारा की गई है जो गैर वामपंथी विचारधारा के थे। जिन 18 लोगों की हत्या हुई है उनमें से 14 व्यक्ति राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, भारतीय जनता पार्टी और भारतीय मजदूर संघ से जुड़े हुए थे। मृतकों में महिला तथा सामाजिक एवं आर्थिक रूप से पिछड़े तबके से संबंध रखने वाले कार्यकर्ता भी सम्मिलित थे। केरल सरकार दोषियों को दंडित करने के लिए कोई भी उपयुक्त और आवश्यक कदम नहीं उठा रही है जिससे गुनाहगारों को कानून प्रक्रिया का सामना करना पड़े। उन्होंने कहा कि सीपीएम लोकतंत्र को सुनियोजित और क्रूरता से मार रही है। यह भी चिंता का विषय है कि पुलिस आज राजनैतिक दबाव के अंतर्गत कार्य कर रही है तथा सीपीएम अपने राजनैतिक हितों को साधने के लिए पुलिस प्रशासन का दुरुपयोग कर रही है।
बता दे की हाल ही में, केरल उच्च न्यायालय ने एक PIL [WP(C)32894/2017] में केरल में बढ़ती राजनीतिक हिंसा पर चिंता व्यक्त की थी। एक अन्य महत्वपूर्ण विषय यह है कि आखिर कन्नूर जनपद में इतनी हिंसा क्यों है।
इस राजनीतिक हत्या का केंद्र बिंदु कन्नूर है। यह मुख्यमंत्री पिन्नरयी विजयन का गृहनगर भी है। इनके पास गृह मंत्रालय का दायित्व भी है। कन्नूर के अलावा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) इस प्रकार का आतंक पूरे राज्य में फैला रही है।

अभाविप के बहुत से कार्यकर्ता ने बलिदान इन के विरुद्ध दिया है एवं शारीरिक क्षति भुगतनी पड़ी।
इस प्रेस वार्ता में प्रदेश सहमंत्री सुजीत पांडे, विश्वविद्यालय प्रमुख विजय प्रताप, विभाग संगठन मंत्री गौरव प्रकाश, विभाग संयोजक विक्की राय, जिला संयोजक राहुल कुमार, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अमित राज, महानगर मंत्री दिव्यांशु भारद्वाज, विश्वविद्यालय अध्यक्ष मणिकांत मनी, विश्वविद्यालय मंत्री सर्वदीप आनंद, उपाध्यक्ष नीतीश कुमार, महानगर सहमंत्री अभिषेक कुशवाहा, अमित मिश्रा, अभिषेक सिंह मौके पर मौजूद थे।

By nwoow

Leave a Reply

Your email address will not be published.