धरना पर बैठे हुए छात्र नेता
पटना–  अखिल भारतीय विधार्थी परिसद् पटना विश्वविद्यालय इकाई द्वारा पटना विश्वविद्यालय के मुख्यालय पर एकदिवसीय धरना का आयोजन किया गया, धरना का मुख्या उदेश्य विश्वविद्यालय में शैक्षणिक अराजकता, भ्रष्टाचार, शिक्षकों की बहाली, छात्रसंघ चुनाव, छात्रावासों की व्यवस्था दुरुस्त करना, छात्राओं की सुरक्षा एवं विभिन्न मुद्दों को लेकर छात्रों को जागरूक करना एवं विधार्थी परिसद् के नेतृत्व में आगामी 25 जुलाई को पटना विश्वविद्यालय छात्र रैली/प्रदर्शन के निमित यह धरना संकेतिक था।
छात्रों को संबोधित करते क्षेत्रीय संगठन मंत्री निखिल रंजन
छात्रों को संबोधित करते क्षेत्रीय संगठन मंत्री निखिल रंजन
धरने को सम्बोधत करते हुए क्षेत्रीय संगठन मंत्री निखिल रंजन ने कहा कि पटना विश्वविद्यालय छात्रों के लोकतांत्रिक और मोलिक अधिकारो का हनन कर रही है विश्वविद्यालय में लगातार शिक्षा के गिरते स्तर एवं अराजकता के कारन छात्रों का भविष्य दाव पर लगा हैं। भ्रष्टाचार के आकंठ में डूबा विश्वविद्यालय प्रशासन लगातार छात्रहितों की अनदेखी कर रही है। गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के अभाव में विश्वविद्यालय में पढनें वाले छात्र मात्र डिग्री पाकर अपने आप को ठगा महसूस कर रहे हैं और डिग्री के लिए भी छात्रों को विश्वविद्यालय का खाक छानना पड़ता है।
सभा को सम्बोधत करते हुए पटना विश्वविद्यालय सीनेट सदस्य पप्पू वर्मा
सभा को सम्बोधत करते हुए पटना विश्वविद्यालय सीनेट सदस्य पप्पू वर्मा
वही सभा को सम्बोधत करते हुए पटना विश्वविद्यालय सीनेट सदस्य पप्पू वर्मा ने कहा कि छात्रों के अधिकार के लिए विधार्थी परिसद् जागरूक है और 25 जुलाई को रैली के मध्यम से विश्वविद्यालय को बताने कि कोशिश करेगी की छात्रहित को ध्यान में रखकर विश्वविद्यालय से जुडी सभी समस्याओं का समाधान अविलम्ब कराया जाए।
वही सभा को संबोधन करने वालो में पटना विश्वविद्यालय प्रमुख विजय प्रताप, गौरव रंजन, नित्यम मिश्र, हिमांशु शांडिल्य, दिव्यांशु भारद्वाज, मणिकांत मणि, सहित सैकड़ो छात्रनेता उपस्थित थे।

By nwoow

Leave a Reply

Your email address will not be published.