सबसे प्रथम देश” बाबा साहेब आंबेडकर

मधेपुरा, 06 दिसंबर। अखिल भारतीय विधार्थी परिसद् मधेपुरा इकाई द्वारा आज बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की 62वीं पुण्यतिथि के अवसर पर के.एन इंटर कॉलेज प्रांगण में संविधान निर्माता बाबा साहेब की जयंती बड़े धूम-धाम से मनाई गई। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. ललन प्रसाद ने कहा कि बाबा साहेब इस देश के सबसे बड़े देशभक्त व राष्ट्रवादी नेता थे। उनका एक ही सिद्धांत था “सबसे प्रथम देश” बाबा साहेब आंबेडकर ने मानव समाज के कल्याण का सपना देखा था जिसे हम देशवासियों को मिलकर आज साकार करने की आवश्यकता है।

इस अवसर पर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य डॉ अनिल कुमार यादव ने कहा कि बाबा साहेब गरीब घर में पैदा होते हुए भी उन्होंने कभी गरीबी से हार नहीं मानी और शिक्षा को अपना हथियार बनाते हुए समाज की दिशा और दशा बदल दी।

उन्होंने शोषितों-वंचितों, दबे-कुचले लोगों के हक की लड़ाई को लड़ा और उन्होंने समाज को आगे बढानें के लिए सिद्धांत दिया ‘शिक्षित बनो, संगठित रहो और संघर्ष करो” आज इस सिद्धांत को हमें अपने जीवन में उतारना चाहिए।

प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अभिषेक कुमार सहित कई कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम में अपने विचारों को रखते हुए बाबासाहेब के मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। कार्यसमिति सदस्य संतोष कुमार विभाग संयोजक रंजन यादव ने कार्यक्रम का संचालन किया।

इस मोके पर नगर संगठन मंत्री उपेंद्र कुमार भरत, धनंजय कुमार, गणित शिक्षक संस्थान के शत्रुघ्न कुमार, रुपेश कुमार, जयंत कुमार, चंद्राव्यु कुमार, कैलाश कुमार, सामंत कुमार, चंदन कुमार, मनोज कुमार, सहित दर्जनों लोग मौजूद थे।

By nwoow

Leave a Reply

Your email address will not be published.