अखिल भारतीय विधार्थी परिषद्, छपरा विशवविद्यालय इकाई द्वारा जय प्रकाश विशवविद्यालय में हो रहे नामांकन व व्याप्त शैक्षणिक समस्याओं के संदर्भ में विशवविद्यालय परिसर में विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कुलपति का पुतला दहन किया गया।

इस पुतला दहन से पूर्व विधार्थियों को संबोधित करते हुए विशवविद्यालय संगठन मंत्री धीरज कुमार ने कहा कि अभाविप छात्रहित, शिक्षाहित व समाजहित में कार्य करनेवाला देश का अग्रणी छात्रसंगठन है। अभाविप शिक्षा व छात्रों से जुड़े मुद्दों के समाधान हेतु सदैव प्रयासरत रहता है। आज इसी कड़ी में विशवविद्यालय प्रशासन के खिलाफ आम छात्र आंदोलन करने को मजबूर हैं। अभाविप द्वारा पूर्व में दिए ज्ञापन को नजरअंदाज करना कुलपति कि मानसिकता को दर्शाती हैं। उन्हें छात्रों के मुद्दों से कुछ भी लेना-देना नहीं है। छात्र परेशान होकर विशवविद्यालय का चक्कर लगाने को मजबूर हैं।

उपस्थित विशवविद्यालय संयोजक रितेश रंजन ने कहा कि इस विशवविद्यालय के नामांकन प्रक्रिया में घोर अनियमितता हो रही है। इस बजह से हजारों-हजार छात्र-छात्राएं कई प्रकार की समस्याओं को झेलने पर मजबूर हैं। कुलपति  छात्र के मुद्दे को पुलिस का खोफ दिखाकर अवाज को सदैव दवाने का प्रयास किया जाता है। अभाविप हरसंभव छात्रहित के मुद्दों को गंभीरता से उठाने के लिए तत्पर है।

विशवविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष रजनीकांत सिंह ने विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया ओर कहा कि अगर विशवविद्यालय प्रशासन छात्र कि समस्याओं को अतिशीघ्र समाधान नहीं करती हैं तो अभाविप आगे भी आंदोलन करने को बाध्य होगी। इस मौके पर विभाग संयोजक रवि पांडेय, जिला संयोजक बंशीधर कुमार, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अंकित सिंह, सिनेट सदस्य अखिलेश मांझी सहित राजाबाबू, प्रशांत कुमार, शुभम यादव, राकेश कुमार, विष्णुशरण तिवारी, सचिन चौरसिया, अमरजीत पांडेय, गुलशन कुमार, अमर सिंह, सुमित कुमार, राजू महत्तो, आदित्य कुमार, रत्नेश, प्रित कुमार, जयनंदन पंडित, अभिमन्यु कुमार समेत सैकड़ों विधार्थी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.