पोस्टर जरी करते अभाविप के कार्यकर्ता

अररिया, 14 दिसम्बर। शैक्षिक तंत्र में अराजकता विद्यमान है, बिहार की शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। यहाँ तक की विश्वविद्यालय में स्नातक की पढाई को पूर्ण होने में 5 से 6 वर्ष लग जा रहे हैं। महाविद्यालय में शिक्षकों की घोर कमी है के कारण समस्त महाविद्यालयों में कक्षा का संचालन ठप है। महाविद्यालय में डिग्री बांटी जाती है उक्त बाते राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सत्यवान मालाकर ने बिहार प्रदेश प्रांतीय अधिवेशन के पोस्टर जारी करते हुए कहीं।

उन्होंने कहा कि राज्य में प्रशिक्षण महाविद्यालयों की भी कमी है जिसके कारण प्रशिक्षण के निमित्त बिहार के छात्राओं को राज्य से बाहर जाना पड़ता है जहां उनका आर्थिक शोषण किया जाता है।

उन्होंने अररिया में बिहार प्रदेश प्रांतीय अधिवेशन जो कि 22 से 25 दिसंबर को नवादा में होने वाला हैं उसका पोस्टर भी अररिया के कार्यकर्ता के साथ जरी किया।

इस मौके पर विभाग संयोजक अभिषेक यादव पिंटू, नगर उपाध्यक्ष डॉ. संजीव कुमार, प्रदेश कार्यकारिणी परिषद सदस्य मंजीत मिश्रा, नीरज निराला, रुपेश राज, नगर सहमंत्री सरोज कुमार यादव, बी.डी.बी.के.एस कॉलेज अध्यक्ष गोलू सिंह, भीम कुमार सहित दर्जनों छात्र मौजूद थे।

By nwoow

Leave a Reply

Your email address will not be published.