अररिया 9 अप्रैल। मंडल विश्वविद्यालय की रेंगती शिक्षा व्यवस्था को खड़ा करने के लिए आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् का एक प्रतिनिधिमंडल अररिया महाविद्यालय के प्रचार्य से मुलाकात कर मंडल विश्वविद्यालय के कुलपति के नाम एक ज्ञापन सौंपा।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिद् के छात्र कार्यकर्ताओं ने कहा कि अधिकतर महाविद्यालयों में व्याख्याताओं की भारी कमी है, जिसके कारण पठन-पाठन लगभग समाप्ति के कगार पर है। छात्र किसी तरह पढ़कर परीक्षा देते हैं लेकिन परिणाम उम्मीद से परे होता है।

अभाविप के कार्यकर्ताओं ने कहा कि मंडल विश्वविद्यालय का सत्र तीन साल विलंब से चल रहा है स्नातक प्रथम खंड 2015-16 के परिणाम में व्यापक गड़बड़ी हुई है। कई सालों से यह धन उगाही का माध्यम बना हुआ है। छात्र छात्राओं को अनुत्तीर्ण कर उसे उत्तीर्ण करने के लिए मोटी रकम वसूली जाती है। यह विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है।

अभाविप के प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानाचार्य से कहा कि परीक्षार्थियों की कॉपी का पुनः मूल्यांकन कराया जाए अगर ऐसा नहीं हुआ तो विद्यार्थी परिषद मजबूर होकर बड़ा आंदोलन करने के लिए बाध्य हो जाएगा। प्रतिनिधिमंडल में उपाध्यक्ष राहुल गुप्ता, महासचिव अमित रंजन, नगर मंत्री विकास कुमार मंडल, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य दीपक मंडल, कोषाध्यक्ष गोविंद कुमार उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.