पटना, 8 फरवरी। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् द्वारा नवादा और बक्सर में छात्र सम्मेलन का आयोजन किया गया। बिहार के प्रत्येक जिलों में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् द्वारा छात्र सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है।
नवादा में नगर भवन में आयोजित कार्यक्रम में संगठन के कई नेता उपस्थित थे। सम्मेलन में जहां एक ओर छात्रों से जुड़ी समस्या को रखा गया वहीं आज के बदलते परिवेश में शिक्षा में सुधार के मार्गों को भी रखा।
नवादा में इंजीनियरिंग, पोलिटेक्निक, मेडिकल काॅलेज की व्यवस्था जिले के सभी 102 महाविद्यायल में, कृषि की पढ़ाई, जिला एवं अनुमंडल मुख्यालय में छात्र एवं छात्राओं के लिए पृथक छात्रावास की व्यवस्था इत्यादि की मांग की गई।
कार्यक्रम के पहले नवादा में शोभा यात्रा निकाली गई जिसमें हजारों की संख्या में छात्र एवं छात्रा के साथ शिक्षक भी मौजूद थे।
वहीं बक्सर में बिहार में व्याप्त शैक्षणिक अराजकता, भ्रष्टाचार, अपराध के खिलाफ एवं छात्र संघ चुनाव अविलंब कराने की मांग को लेकर विद्यार्थी परिषद् का जिला छात्र सम्मेल रामलीला मंच पर संपन्न हुआ। सम्मेलन में जिले के विभिन्न हिस्सों से छात्रों का आगमन हुआ। मुख्य वक्ता सिंडीकेट सदस्य डाॅ. राजेश सिन्हा ने कहा कि आज बिहार बढ़ते अपराध, भ्रष्टाचार एवं शैक्षणिक अराजकता का केंद्र बन गया है। बिहार की शिक्षा व्यवस्था हर कसौटी पर पीछे है। छात्रों की संख्या के अनुपात में उत्तम शिक्षकों की कमी विद्यालय से विश्वविद्यालय स्तर पर है।
सम्मेलन का समापन जिा संयोजक दीपक यादव, धन्यवाद ज्ञापन प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रसोत रूप् ने किया। सम्मेलन में अभिषेक कुमार, राहुल कुमार, विवेक शर्मा पूजा कुमारी, प्रवीण सिंह सहित हजारों छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

By nwoow

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *